Meeting of Standing Committee on Safety in coal mines  held by Coal Ministry in New Delhi(5.1.2021) under the chairmanship of Sri Pralhad Joshi,Coal Minister

Meeting of Standing Committee on Safety in coal mines held by Coal Ministry in New Delhi(5.1.2021) under the chairmanship of Sri Pralhad Joshi,Coal Minister

दिनाँक 05/01/2021 को स्टैंडिंग कमेटी आन सेफ्टी इन कोल माइन की बैठक नई दिल्ली में माननीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी जी की अध्यक्षता तथा श्री अनिल कुमार जैन कोल सचिव,श्री प्रमोद कुमार अग्रवाल चेयरमैन कोल इंडिया, श्री प्रभात कुमार डीजीएमएस,आल सीएमडी व संगठन प्रतिनिधि श्री के.लक्षमारेड्डी,कोल प्रभारी बीएमएस श्री संजय सिंह बीएमएस और अन्य ट्रेड युनियन प्रतिनिधी श्री नाथूलाल पांडेय एचएमएस,श्री सी.जे.जोसफ एटक,श्री मानस मुखर्जी सीटू की उपस्थिति में प्रमुख रूप से सम्पन्न हुई।
बीएमएस संगठन से श्री के.लक्षमारेड्डी जी ने निम्न विषयों को समाहित किया-
1) covid-19 के तहत कोरोना बीमारी से मरने वाले विभागीय व ठेकेदारी मजदूरों को ex-gratia जो कि माननीय मंत्री जी ने स्वीकृत किया था,भुगतान किया जाए,और राशि को 15 लाख से बढ़ाकर दिया जाए।
 
2)ठेकेदारी कामगार जो खदान में कार्य के दौरान मरते हैं,उनके परिवार के भरण पोषण की व्यवस्था प्रबंधन को करनी चाहिए।
 
3)कोल इंडिया का भविष्य आगामी 20 वर्षों में प्रदूषण को लेकर संदेहास्पद है,इस निमित्त दूसरे क्षेत्र में निवेश हेतु कोल इंडिया को सोचना होगा।
 
4)चूँकि जेबीसीसीआई 11के तहत वेतन समझौता कोल कर्मचारियों हेतु 01 जुलाई 2021 से लागू होना है,इसलिए समिति का गठन अविलंब किया जाये।
 
5)सिंगरैनी कोल फील्ड में प्रबंधकीय अराजक्ताओं को गंभीरता से लिया जाए।
बीएमएस संगठन से श्री संजय सिंह ने –
 
1)स्टैंडिंग कमेटी के सदस्यों के द्वारा कोल इंडिया के सभी खदानों व निजी खदानों का निरीक्षण किया जाने हेतु कार्यक्रम बनाना होगा,साथ ही साथ कोल इंडिया व कंपनी लेवल की सभी बैठकों व कार्यक्रमों में समिती सदस्यों को अनिवार्य रूप से सहभागी किया जाए।
 
2)आवास रिपेयरिंग से संबंधित जो आँकड़े प्रबंधन द्वारा दिए गए हैं,जिसमें प्रबंधन द्वारा 91% काम होना बताया गया है,वह सही नही है,वास्तव में 25% भी काम नही हुआ है,सत्यता की जांच टीम बनाकर की जानी चाहिए।
3)स्टेच्युुुरी पर्सन,1000 जूनियर अधिकारी(E2) व माइनिंग सरदार,ओवरमैन की भर्ती अविलंब किया जाए,600 जूनियर अधिकारियो(E2)हेतु प्रमाण पत्र डीजीएमएस के पास पड़े हैं,वन टाइम पदोन्नति प्रदान कर दी जाए, जिसपे डीजीएमएस प्रभात कुमार जी ने जनवरी तक सभी पदोन्नति पूरी करने की बात कही।
 
4)सेफ्टी मैनेजमेंट प्लान,मिस फायर डिटेक्टर,ग्रीन बेल्ट चैनल,एचईएमएम में अन्य सेफ्टी डिवाइस के अलावा प्रोक्सिमिटी डिवाइस,मैन राईडिंग, गंभीर दुर्घटनाओं के आंकड़ों का सांघातिक दुर्घटनाओं से कम का गलत आँकड़ा प्रबंधन द्वारा प्रस्तुत करना,स्ट्रेटा कन्ट्रोल सेल,एसएमपी का सेफ्टी मैनेजमेंट प्लान ना होकर सॉफ्ट मैनेजमेंट प्लान बनकर रह जाना,इसे सरलीकरण के साथ क्षेत्रीय स्तर पे नोडल ऑफिसर की नियुक्ति, सेफ्टी बजट(सभी क्षेत्रीय महाप्रबंधकों को 30 लाख तक का डीओपी,प्लानिंग विभाग की मजबूती,सिमतास(ऑस्ट्रेलिया)से प्रशिक्षण प्राप्त करके आये अधिकारियों की उपयोगिता, विशेष संवर्ग के चिकित्सकों की कंपनी स्तर पे नियुक्ति इत्यादि विषयों को रखा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *